वैक्सिंग करते समय यह गलतियां पड़ सकती हैं आपकी स्किन पर भारी

Spread the news

प्राकृतिक सुंदरता को निखारने के लिए अतिरिक्त प्रयासों की आवश्यकता होती है। खासतौर से, त्वचा पर मौजूद अतिरिक्त बाल आपके नैसर्गिक सौंदर्य को कहीं न कहीं प्रभावित करते हैं। अमूमन महिलाएं इन अतिरिक्त बालों को हटाने के लिए वैक्सिंग का सहारा लेती हैं। लेकिन वैक्सिंग करवाते समय कुछ बातों का ख्याल रखना बेहद आवश्यक है अन्यथा आपकी स्किन पर रैशेज व अन्य तरह की समस्याएं हो सकती हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में−

उन दिनों में करें परहेज- अगर आप वैक्सिंग करवाना चाहती हैं तो माहवारी के दिनों में ऐसा करने से बचें। दरअसल, इन दिनों में स्किन कुछ ज्यादा ही सेंसेटिव हो जाती हैं और अक्सर वैक्सिंग करवाई जाए तो रैशेज होने या स्किन को नुकसान होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है। वैसे इन दिनों में थ्रेडिंग आदि भी नहीं करवानी चाहिए।
कमरे का तापमान करें प्रभावित-शायद आपको जानकर हैरानी हो लेकिन कमरे का तापमान भी वैक्सिंग को प्रभावित करता है। दरअसल, कुछ लोगों की स्किन से पसीना ज्यादा निकलता है। खासतौर से, गर्मी व उमस के मौसम में पसीना आने की समस्या होती है। ऐसे में अगर कमरे का तापमान उचित न हो तो बार−बार पसीना आने के कारण वैक्सिंग ठीक प्रकार से नहीं हो पाती और बाद में लोगों को स्किन में जलन, रैशेज व दाने आदि हो सकते हैं।
न करें यह गलती- अक्सर आपने देखा होगा कि कुछ पार्लर में साफ−सफाई का बिल्कुल भी ख्याल नहीं रखा जाता। गंदे पफ का इस्तेमाल करना, स्ट्रिप बचाने के चक्कर में एक ही स्ट्रिप का प्रयोग करना व गंदे टॉवल आदि के उपयोग का हर्जाना आपकी स्किन को भुगतना पड़ सकता है। इसलिए ऐसे किसी भी पार्लर में सिर्फ वैक्सिंग ही नहीं, बल्कि किसी भी तरह का ब्यूटी ट्रीटमेट लेने से परहेज करें।
प्रॉडक्ट पर भी दें ध्यान-
आप अपने शरीर पर किस प्रॉडक्ट का इस्तेमाल कर रही हैं, यह भी काफी महत्वपूर्ण है। कभी भी प्रॉडक्ट की क्वालिटी के साथ किसी प्रकार का समझौता न करें। वैक्सिंग करवाने से पहले एक बार प्रॉडक्ट की एक्सपायरी डेट चेक कर लें। साथ ही वैक्सिंग का चयन करते समय मौसम पर भी एक नजर अवश्य डालें। आपकी वैक्सिंग मौसम के अनुरूप ही होनी चाहिए। वहीं अगर आपकी स्किन सेंसेटिव है और आप किसी खास ब्रान्ड का उपयोग करती है तो किसी के भी कहने पर अपनी स्किन के साथ किसी भी तरह का एक्सपेरिमेंट न करें।
Please follow and like us:
RSS
Follow by Email
Facebook
Google+
http://readersmessenger.com/?p=586
Twitter

Related posts

Leave a Comment